A Non-Profit Non-Commercial Public Service Initiative by Alka Vibhas   
बलमा आये रंगीले

बलमा आये रंगीले
रसीले बादल सावनके

नटखट चंचल नाचे बिजुरियाँ
गीत खुशीके गाये नदियाँ
आंचल हरियाला झलके

भीगी भीगी रात में रसियाँ!
मिठी मिठी कि जै बतियाँ
कुंज कुंज महके!
कुंज - वेलींचा मांडव.