A Non-Profit Non-Commercial Public Service Initiative by Alka Vibhas   
बायगो बायगो

मस्ती की बस्ती को तू हुल्लड का हैंडल दिला
टेंन्शन की आंटी को भी जेनी की फेनी पिला
मचमच की मौसी को बोल चखने में काजू खिला
टस्सल को मस्सल के तू विस्सल पे दुनिया हिला

बायगो बायगो इलायती नाय गो
फेनीची हायगो वायली मजा
बायगो बायगो सांग किदे जायगो
फिक्कर को छोड चल लिक्कर पिला

झुमेंगे नाचेंगे मैफिल जमायेंगे
दिन आज का है ये मस्ती भरा प्यारा
हे हो.. वोडलो खुशीचो आयचो हो दिस आसा

हल्ला मचायेंगे जल्वे दिखायेंगे
बस हम बना देंगे अब ये समा सारा
हे हो.. वोडलो खुशीचो आयचो हो दिस आसा

होश उड गये है यार कैसा है नशा
अंग अंग दंग आज रंगल्या दिशा
जोश है जवां जवां नजारा है जवां
भान हरपुनी खुशाल झिंगते हवा

बायगो बायगो इलायती नाय गो
फेनीची हायगो वायली मजा
बायगो बायगो सांग किदे जायगो
फिक्कर को छोड चल लिक्कर पिला

दिल से दिल मिल जाए गुल ऐसा खिल जाए
झटके में खुल जाए किस्मत का हर ताला
हे हो.. वोडलो खुशीचो आयचो हो दिस आसा

कलकी ना सोचेंगे खुदको ना रोकेंगे
टेन्शन को बोलेंगे चिपका है क्यो साला
हे हो.. वोडलो खुशीचो आयचो हो दिस आसा

ढोल बोलता है यार झूमले जरा
आ खुशी की हूर को तू चूम ले जरा
दर्द कि घटा हटा मचलने दे कदम
भूल जा कही सुनी तू नाचले जरा

बायगो बायगो इलायती नाय गो
फेनीची हायगो वायली मजा
बायगो बायगो सांग कीदे जायगो
फिक्कर को छोड चल लिक्कर पिला
गीत - गुरु ठाकूर
संगीत - अजय-अतुल
स्वर- कुणाल गांजावाला
चित्रपट - रिंगा रिंगा
गीत प्रकार - चित्रगीत

 

Print option will come back soon