A Non-Profit Non-Commercial Public Service Initiative by Alka Vibhas   
जय जय प्रिय भारत

जय जय जय प्रिय भारत जनयित्री दिव्य धात्रि
जय जय जय शत सहस्र नरनारी हृदय नेत्रि !

जय जय सश्यामल सुश्याम चलच्चेलांचल
जय वसंत कुसुमलता चलित ललित चूर्णकुंतल
जय मदीय हृदयाशय लाक्षारुण पदयुगल !

जय दिशांत गत शकुंत दिव्यगान परितोषण
जय गायक वैतालिक गल विशाल पथ विहरण
जय मदीय मधुरगेय चुंबित सुंदर चरण !
गीत - देवुलापल्ली कृष्ण शास्‍त्री
संगीत - ए अनसूया देवी
स्वर- आकाशवाणी गायकवृंद
गीत प्रकार - स्फूर्ती गीत